संघ लोक सेवा आयोग के चयन में इस बार 300 सीटें कम होंगी।

नई दिल्ली: इस साल यूपीएससी द्वारा आयोजित प्रतियोगी परीक्षा में भारतीय इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा में 300 सीटें कम हो जाएंगे

रेलवे बोर्ड ने संघ लोक सेवा आयोग को पत्र लिखकर कहा है कि वह रेलवे विभाग के लिए नियुक्ति ना करें।

रेलवे बोर्ड नौ अलग-अलग सेवाओं को मिलाकर रेलवे मैनेजमेंट बनाने का निश्चय किया है। यूपीएससी को लिखे पत्र में रेलवे बोर्ड ने यह बातें कही है इसलिए संघ लोक सेवा आयोग रेलवे बोर्ड ने कहा है कि वे उनके लिए नए अफसरों का चयन न करे.

अगले महीने से प्रीलिम्स के लिए आवेदन भरे जाएंगे। पिछले साल कुल 782 सीटें थी वर्ष 2018 में भी 782 सीटों के लिए विज्ञापन दिया गया था लेकिन नियुक्ति सिर्फ 759 अफसरों का हुआ था।

बात अगर 2014 की करे तो उस वक्त 1364 नियुक्तियों के लिए विज्ञापन जारी किया गया था और 1236 अफसरों का चयन हुआ।

इस वर्ष यह संख्या 642 रह जाएगी। रेलवे बोर्ड के नए गठन की नियुक्ति प्रक्रिया क्या होगी। वह अफसरों का चयन परीक्षा के माध्यम या किसी और तरीके से कराएगा इस संदर्भ में रेलवे बोर्ड में कोई जानकारी साझा नहीं की है।

Mdi Hindiसे जुड़े अन्य ख़बर लगातार प्राप्त करने के लिए हमेंfacebookपर like औरtwitterपर फॉलो करें.

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x