राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सक करते है पंचायत भवन में मरीजों का इलाज!

बघौचघाट देवरिया – विकासखंड पथरदेवा के बघौचघाट में स्थित राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय के फार्मासिस्ट बाबू नंद चौबे जी मरीजों का इलाज पंचायत भवन में करते है।

एम०डी०आई० हिंदी के वरिष्ट संवाददाता मो० मेहरुद्दीन से उन्होंने बताया कि 1972 ई० से वह किराए के मकान में मरीजों का इलाज करते आ रहे है।

सरकार और प्रशासन ने होम्योपैथिक चिकित्सालय के लिए अभी तक कोई जमीन उपलब्ध नहीं की है।

जिस पंचायत भवन में मरीजों का इलाज़ हो रहा है वो भी काफी पुरानी और जर्जर हो चुकी है। जर्जर पंचायत भवन आए दिन कभी भी भारी बरसात में जानलेवा साबित हो सकती हैं।

फार्मासिस्ट बाबू नंद चौबे जी

उन्होंने बताया कि हमने विभाग के सभी वरिष्ट अधिकारियों को अपनी समस्या से अवगत कराया है लेकिन इसका कोई भी नतीजा सामने नहीं आया, हम मरीजों को बड़ी मुसीबतों का सामना करके उनका इलाज करते हैं।

आपको बताते कि राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय प्रत्येक दिन 250 से 300 मरीजों का इलाज होता है। जिम्मेदार अधिकारी अपनी जिम्मेदारियों को ताक पर रखकर मरीजों के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

एम०डी०आई० हिंदी फार्मासिस्ट बाबू नंद चौबे जी के जज्बे को सलाम करता है कि वह अपनी जान पर जोखिम डाल कर मरीजों का इलाज कर रहे है।

ग्राम प्रधान को दी गई थी लिखित प्रार्थना पत्र।

पूर्व ग्राम प्रधान को अस्पताल निर्माण हेतु भूमि उपलब्ध कराने के लिए लिखित प्रार्थना पत्र दी गई थी लेकिन उन्होंने उस प्रार्थना पत्र को नजरअंदाज कर दिया।

वर्तमान प्रधान ओम प्रकाश प्रसाद को भी अस्पताल की भवन निर्माण की भूमि के लिए प्रार्थना पत्र दिया गया है लेकिन वह भी अब तक खामोश है।

जिलाधिकारी ने भूमि उपलब्ध करने के निर्देश दिए।

जिला अधिकारी देवरिया ने पत्रांक:  होम्यो०/2019-20/508 दिनांक 21-08-2019 को राजकीय होम्योपैथिक चिकित्सालय के भवन निर्माण के लिए निशुल्क भूमि उपलब्ध कराने के निर्देश जारी किए है लेकिन निचले अधिकारियों की मिलीभगत ने इस आदेश पर पानी फेर दिया है। नतीजतन अभी तक कोई भूमि इस चिकित्सालय के लिए चिन्हित नहीं की गई है जिस पर चिकित्सालय भवन का निर्माण किया जा सके।

फार्मासिस्ट बाबू नंद चौबे जी

Mdi Hindi से जुड़े अन्य ख़बर लगातार प्राप्त करने के लिए हमें facebook पर like और twitter पर फॉलो करें.

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x