बीजेपी अध्यक्ष का फटकार संभल जाओ गिरिराज।

नई दिल्ली- भारतीय जनता पार्टी के बिहार फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह से शायद ही कोई अनजान हो। आए दिन प्रिंटेड अखबार व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर इनके सभ्य बयान प्रकाशित होते रहते हैं।

श्रीमान जी के पास पाकिस्तान का अनलिमिटेड वीजा उपलब्ध है। जो लोग देश में सरकार की गलत नीतियों पर सवाल उठाते है। उनको वीजा देकर पाकिस्तान शिफ्ट होने की सलाह देते हैं।

मान्यवर का मानना है कि सरकार से सवाल सिर्फ पाकिस्तान में किया जा सकता है। हिंदुस्तान के तख्त पर तो भगवान का शासन है और भगवान से सवाल नहीं किया जा सकता। इनके और इनके पार्टी के अनुसार इससे पहले सत्ता की बागडोर संभालने वाले लोग भगवान नहीं शैतान थे उन्होंने देश को पूरी तरह लूट लिया।

हालांकि इनका यह प्रचलन पिछले 5-6 सालों से खूब फल-फूल रहा है। पार्टी को प्रचंड सीटें मिल रही है। एक संप्रदाय को खुले मंच से गाली देने से, एक बड़ा तबका इनके साथ खड़ा हो जा रहा है। यह बात इनका मानना है। लेकिन सच्चाई ठीक इसके विपरीत है।

दिल्ली से दहली बीजेपी को भी अब यह बात समझ में आने लगी है। हिंदुस्तान-पाकिस्तान क्रिकेट मुकाबला, आतंकवाद, गोली मारना, शाहीन बाग जैसे उल्टे सीधे उग्र करंट कनेक्शन का प्रयोग संयोग से बीजेपी को दिल्ली विधानसभा की 70 सीटों में से सिर्फ 8 सीटें ही दिला पाई।

जिसके बाद से बीजेपी में पूरे दहशत का माहौल है। वो देश की जनता को बेरोजगारी, भूखमरी, नौकरी, व्यापार, शिक्षा से गुमराह कर राष्ट्रवाद, आतंकवाद, पाकिस्तान, हिंदू मुसलमान के नाम पर वोट बटोर रही थी।

रोजगार, शिक्षा, भूखमरी, नौकरी व्यापार पर बनी दिल्ली सरकार ने बीजेपी के मंसूबों पर पानी फेर दिया है। जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी की नीतियों में परिवर्तन की लगातार खबरें सामने आ रही है।

गृह मंत्री ने खुद स्वीकार किया है की आतंकवाद और एक मुख्यमंत्री को आतंकवादी कहना, गोली मारना उनके लिए भारी पड़ गया। कार्यकर्ताओं द्वारा ऐसे शब्दों का उपयोग नहीं करना चाहिए था। लेकिन गृह मंत्री ने खुद जिन शब्दों का प्रयोग किया उस पर उन्होंने कुछ नहीं कहा।

इतना सब होने के बाद भी बिहार के फायर ब्रांड नेता (विवादित बयानों के लिए प्रसिद्ध) गिरिराज सिंह का बयान थमने का नाम नहीं ले रहा है। कुछ दिन पहले ही उन्होंने दारुल उलूम देवबंद को आतंकवाद का गंगोत्री कहा था।

अब उन्होंने कहा है कि नरेंद्र मोदी से सवाल करोगे तो आंखें निकाल लेंगे नरेंद्र मोदी को वह एक भगवान का अवतार मानते हैं। “माने” यह उनका व्यक्तिगत विचार हो सकता है।

एक लोकतांत्रिक प्रधानमंत्री से सवाल करना स्वस्थ व उदार जनता का हक बनता है। जिसका निर्वहन वह बखूबी करती रहेगी।

इस बयान के बाद भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह को कड़ी फटकार लगाई है। और अपने बेतुके बयानों से बाज आ जाने के लिए कहा है।

भारतीय जनता पार्टी को भी अब यह समझ में आने लगा है कि बिना विकास किए राष्ट्रवाद, आतंकवाद, हिंदू मुसलमान से देश की जनता को ज्यादा दिन तक गुमराह नहीं किया जा सकता है।

Mdi Hindi से जुड़े अन्य ख़बर लगातार प्राप्त करने के लिए हमें facebook पर like और twitter पर फॉलो करें.

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x