फरवरी की आखिरी हफ्ते की आंधी और बरसात किसानो पर आफत बनकर आई!

संवाददाता : असलम अंसारी

बघौचघाट– फरवरी के आखिरी हफ्ते की बरसात और तेज आंधी ने किसानों के तैयार फसलों को रौंद दिया है। कुदरत की बरसात किसानो के लिए आफत बन कर आई है।

बारिश और तेज आंधी की वजह से गेहूं, आलू, मटर, और जौ की फसलों को भारी नुकसान हुआ है। किसान अपने तैयार फसलों की बर्बादी देख कर हताश व निराश है।

जिले भर में दो दिन से खराब हुए मौसम ने गेहूं की फसल को काफी ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। गेहूं की फसलें अधिकांश जगहों पर खत्म हो चुकी हैं।

इस बरसात से किसानों को काफी ज्यादा नुकसान हुआ है गेहूं के साथ साथ आलू, मटर, सरसों आदि फसलों का नुकसान किसानों को झेलना पड़ा है। जिसे किसानों के चेहरे पर मायूसी छाई हुई है।

पिछले दो दिन से उत्तर प्रदेश और बिहार के कई हिस्सों में बेमौसम आंधी तूफान बारिश और ओले के टांडव ने फसलों को भरी मात्रा में नुकसान पहुंचाया है।

देवरिया जिला में 50% फीसदी फसलों का नुकसान हुआ है। जिससे किसानों के चेहरे हताश व निराश हो चुके हैं।

Mdi Hindiसे जुड़े अन्य ख़बर लगातार प्राप्त करने के लिए हमेंfacebookपर like औरtwitterपर फॉलो करें.

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x