ग्राम प्रधान की नाली निर्माण ने बढ़ा दी ग्रामीणों की मुसीबतें!

संवाददाता : असलम अंसारी

बघौचघाट– ग्राम सभा कोईलसवां खुर्द के ग्राम प्रधान सुनीता यादव द्वारा सड़कों के बीच में पाईप डाल कर नाली का निर्माण कराया गया है। जिससे सड़के टूट गई है बारिश होने से सड़क के बीचो-बीच पानी इकट्ठा हो जा रहा है।

नाली का मानक अनुसार निर्माण नहीं किया गया है और न ही पाईप डालने के लिए तोड़ी गई सड़कों की मरमत की गई है जिसके कारण बरसात के पानी का 50% हिस्सा सड़कों पर जमा हो जा रहा है। जिससे ग्राम सभा के लोगो को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है।

ग्राम सभा के लोगों ने प्रधान सुनीता यादव से सड़क को ठीक करने की गुहार लगाई है लेकिन उनके तरफ से कोई विश्वसनीय जवाब नहीं मिल है। सड़कों की ठीक से मरम्मत नहीं होने के कारण नाली के लिए डाली गई पाईप भी जगह जगह टूट गई है। जिससे नाली का पानी सड़क के ऊपर से बहने लगा है।

ग्राम प्रधान की नाली निर्माण की रस्म अदायगी ने पूरे ग्राम सभा के लोगों को मुसीबतों में खड़ा कर दिया है। नाली निर्माण के पश्चात ग्राम सभा के लोगों को सिर्फ पानी बहाने की दिक्कत थी लेकिन ग्राम प्रधान ने इस समस्या को इस कदर सुलझाया कि नाली की समस्या हल भी नहीं हुआ और सड़के भी जर्जर हो गई।

ग्राम प्रधान का नाली निर्माण का बजट भले ही पास हो गया हो लेकिन ग्रामीणों की कठिनाइयों का हल नहीं हुआ है।

शौचालय से भी वंचित है ग्राम सभा के कई जरूरतमंद!

केंद्र सरकार की योजना भले ही सबको शौचालय देने का दावा करती है लेकिन ग्राम प्रधान की मनमानी से कई जरूरतमंद इस योजना का लाभ नहीं उठा पाते है। ग्राम सभा कोईलसवां खुर्द के रमेश कुशवाहा, दरोगा अंसारी, राम आशीष कुशवाहा, दर्शन कुशवाहा, कैलाश प्रसाद, संजय प्रसाद, जोगिंदर कुशवाहा, विजय बहादुर, अंबेडकर, मंगनी प्रसाद समेत सैकड़ों लोग शौचालय से वंचित है।

Mdi Hindi से जुड़े अन्य ख़बर लगातार प्राप्त करने के लिए हमें facebook पर like और twitter पर फॉलो करें.

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x